HindiMythological FictionNovel

YUDDH KI SANSTUTI By Arvind Kumar Srivastava

  • Language ‏: ‎ Hindi
  • Paperback ‏: ‎ 224 pages
  • ISBN-10 ‏: ‎ 9390944074
  • ISBN-13 ‏: ‎ 978-9390944071
  • Item Weight ‏: ‎ 224 gm
  • Dimensions ‏: ‎ 5.5 x 0.5 x 8.5 cm

Product Description – 

यह चार खण्डों में फ़ैली महाभारत गौरवगाथा के पहला भाग है। यह कहानी है भारत वर्ष में पाँच हजार वर्षों और अधिक से पूर्व की, एक महायुद्ध के प्रारम्भ की, दो वंशों के बीच बनते-बिगड़ते संबंधों की, अधिकार और राज्य सत्ता के लिये हुए संघर्षों की, संघर्षों के बीच पनपते प्रेम, सम्मान तथा दया और ममता की, त्याग और बलिदानों के साथ उपजती लालसाओं और असन्तोष की, और अंत में एक नारी के अपमान पर उबलते हुए ख़ून और पीड़ा की, समस्त संभावनाओं के साथ धर्म और विश्वाश की रक्षा की, ज्ञान और विज्ञान के साथ निर्माण और विनाश की भी, अनादि काल से मानवीय संबंधों के बीच संघर्ष होते रहे हैं, आज भी हैं और शायद आगे भी रहेंगे ही। किन्तु विगत संघर्षों के होने के कारणों से आज का मनुष्य कुछ न कुछ सीखता आया है।

 About the Author – 

अरविन्द कुमार श्रीवास्तव उत्तर प्रदेश राज्य के बहराइच जनपद से आते हैं और अपने पोर्टल शब्दलेख डॉट कॉम (shabdlekh.com) पर कई प्रेरक तथा सामाजिक कहानियों, लेखों और कविताओं के लिखने हेतु जाने जाते हैं.रेडग्रैब बुक्स से ‘महाभारत गौरव गाथा’ शृंखला की यह पहली पुस्तक है. पूर्व में एक प्रेरणा प्रद पुस्तक “21वीं0 सदी में – डरें या लड़ें” प्रकाशित हो चुकी है, इसके अतिरिक्त साझा कहानी संग्रह ‘पथिक’, ‘किस्सागो जिंदगी’ तथा लघुकथा संग्रह ‘गुंजित मौन’ एवं विभिन्न पत्र – पत्रिकाओं में पारिवारिक, सामाजिक, आर्थिक, तथा प्रेरणा प्रद लेख और कहानियाँ प्रकाशित हैं.शीघ्र ही रेडग्रैब बुक्स से ही कहानी संग्रह ‘ट्रेन वाली लड़की’ प्रकाशित होने वाली है.श्री श्रीवास्तव ‘अर्थशास्त्र’ एवं ‘हिन्दी साहित्य’ में एम0 ए0 होने के साथ – साथ निवेश सलाहकार भी है।.

 Paperback Book available at-

Amazon link – https://www.amazon.in/dp/9390944074?ref=myi_title_dp

Flipkart –https://bit.ly/36rF39Y

EBook Available at-

Kindle- https://amzn.to/2UH5Uwc

Google Books – https://bit.ly/3yMZhHp

Kobo – https://bit.ly/3i1LtSE